इन्सान के पास कितना भी पैसा आ जाए पर लेकिन अगर उसका शरीर स्वस्थ नहीं है तो सब बेकार है। दुर्भाग्यवश, हमारे देश में कई ऐसे राज्य हैं जहां पर लोग कुपोषण के शिकार पाये जाते हैं। इस समस्या के कारण कई बार अल्प-विकसित या खोड़-ग्रस्त शिशु भी उत्पन्न होते हैं। शारीरीक कमजोरी इन्सान के आत्मविश्वास को तोड़ कर रख देती है और उसे एक सामान्य जीवन जीने में बाधा डालती है।

शरीर में कमजोरी की वजह से व्यक्ति किसी भी काम को ठीक ढंग से करने पर अपना ध्यान नहीं लगा पाता है। जिसकी वजह से वो बीमार दिखने लगता है।सुखी और स्वस्थ जीवन के लिए ये बेहद जरुरी है कि व्यक्ति शारीरिक रूप से शक्तिशाली बना रहे। शरीर में किसी भी प्रकार की कमजोरी होने से जीवन में दुख और समस्याओं को बढ़ावा मिलता है।यदि किसी पुरुष में कमजोरी हो तो उसका वैवाहिक जीवन सुखी नहीं रह सकता है।

शारीरिक कमजोरी/दुबले-पतले होने के कारण:

cryingशरीर में ज़रूरी पोशक तत्वों की कमी के कारण शरीर कमज़ोर बन सकता है।
cryingचिंता और भय सताने पर भी शरीर में कमजोरी आ सकती है।
cryingअच्छी तरह से भोजन ना करने पर भी यह समस्या हो सकती है।
cryingदस्त, उल्टी होने पर भी कमजोरी आ जाती है।
cryingकुदरती वेग यानि मल-मूत्र को रोके रखना भी कमजोरी आने का कारण हो सकता है।
cryingजठराग्नि का धीमी गति से कार्य करना दुबलेपन का कारण है |
cryingव्यक्ति में हार्मोन असंतुलित हो
cryingपाचन शक्ति कमजोर हो
cryingमानसिक चिंता हो
cryingशरीर में सप्त धातुओं की कमी हो
cryingशरीर में खून की कमी हो
cryingअति व्यायाम या बिलकुल व्यायाम न करना
cryingपेट में कीड़े

शक्तिमान और बलवान शरीर इन्सान की सब से बड़ी पूंजी होती है। समतोल आहार,नित्य व्यायाम और चिंता रहित जीवन शरीर को स्वस्थ बनाए रखता है। अगर किसी व्यक्ति को शारीरिक कमजोरी रहने की शिकायत है तो ऐसे व्यक्तिआयुर्वेदिक उपचार का सहारा ले कर शरीर को स्वस्थ बना कर सेहतमंद जीवन जी सकते है। दुबले लोगों में आहार रस का निर्माण कम मात्रा में होता हे, इस कारण शरीर में रक्त, मांस, मेद, हड्डियाँ, मज्जा, आदि को सम्पूर्ण पोषण नहीं मिल पता जिससे शरीर दुबला पतला रहता है|


हमने अधिकतर देखा है की लोग तेजी से वजन बढाने के लिए बाजार में मिलने वाली अनेक प्रकार की अंग्रेजी दवाइयों (टेबलेट,कैप्प्सुल) का इस्तेमाल करते है | ये अंग्रेजी दवाइयां काफी महेंगी होती हे, और साथ ही ये आप के शरीर के लिए भी बेहद हानिकारक होती हे | ये आपके शरीर को फुला देती हे, लेकिन अन्दर से आपका शरीर खोकला रहेता हे | बाजार में आजकल ऐसी अंग्रेजी दवाइयों का तेजी से व्यापर हो रहा हे | ये दवाइयां आपके किडनी, लीवर, और पाचनतंत्र को भी बहोत नुक्सान करती हे |ऐसे में जानते हैं ऐसे उपाय जो शारीरिक कमजोरी दूर कर शरीर को फौलाद बना देते हैं।

अगर आप प्राकृतिक रूप से अपना वजन बढ़ाना चाह्ते हे तो आप आयुर्वेदिक जडीबूटियो का इस्तेमाल कर सकते हे, जिसका कोई दुष्प्रभाव (साइड इफेक्ट) नहीं होता | इन दवाइयों में शुद्ध जड़ी बूटियों का मिश्रण होता हे इसलिए वजन बढाने के लिए आपको अधिक समय लगता हे, लेकिन इनका सेवन पूरी तरह सुरक्षित होता हे |
वजन बढ़ाने के लिए कसरत और शारीरिक व्यायाम के साथ अगर अश्वगंधा , कौचा, शतावरी, गोक्सुरा, विदारी, स्वेत मुस्ली जेसी जड़ी बूटियों का सेवन सही मात्रा में करने से शरीर में सप्त धातुओं की कमीपूरी होती हे, शरीर को पोषण मिलता हे जो वजन बढ़ाने के लिए अति लाभदायक हे | 
हमारे आयुर्वेदिक चिकित्सक ने इन दुर्लभ औषधियों पर आविष्कार करके हर एक औषधियों को सही मात्रा और योग्य स्वरुप में मिश्रित करके अत्यंत असरकार पाउडर “अश्वशक्ति पाउडर” का निर्माण किया है | इसमें मौजूद तत्व शरीर की प्रणाली को मजबूत करके, सप्त धातुओं की कमी पूरी करके आपके शरीर को ह्रुस्ट पुष्ट रखेगा | यह शक्तिवर्धक औषधि हर उम्र के व्यक्ति वो चाहे महिला हो या पुरुष सभी के लिए सुविधाजनक और प्रभावकारी हे |

“अश्वशक्ति पाउडर” से मिलने वाले लाभ
surpriseआपकी भूख को बढ़ाए |
surpriseशरीर के सातों धातुओं को उचित पोषण देता है जिससे शरीर मजबूत और गठीला बनता है|
surpriseरक्तादी सप्तधातुओं को बढाकर शरीर को बलवान एवम पुष्ट करता हे|
surpriseयह प्राकृतिक एवं सुरक्षित हर्बल पाउडर है|
surpriseआंतो में टमवोर्म या अन्य प्रकार के कीड़े से रक्षा करता है|
surpriseआपके हार्मोन्स के असंतुलन को विनियमित करने के लिए आपकी मदद करता हे|
surpriseशरीर में कैल्शियम की कमी नही होती जिससे हड्डियॉ मजबूत होती हैं ।
surpriseपाचन सही रखता है जिससे खाया पिया शरीर को पूरी तरह से लगता है ।
surpriseइस अश्वशक्ति पाउडर का सुबह शाम हलके गरम दूध में नियमित सेवन करने से आपकी भूख बढ़ेगी, सप्तधातुओं की कमी पूरी होगी और  एक फौलादी शक्ति वाले शरीर का निर्माण होगा|

इस अश्वशक्ति पाउडर को लेने के लिए यहाँ ऑनलाइन आवेदन करे |